Sunday, April 14, 2024
HomeNewsPolitical Newsनिर्मला सीतारमण की बेटी की हुई शादी, दामाद है नरेंद्र मोदी के...

निर्मला सीतारमण की बेटी की हुई शादी, दामाद है नरेंद्र मोदी के बेहद करीबी, सीएम से पीएम बनने तक साथ

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की बेटी परकला वांगमयी बेंगलुरु में प्रतीक दोशी के साथ विवाह के बंधन में बंध चुकी है। इस समारोह में केवल करीबी दोस्त और रिश्तेदार ही मौजूद थे, इस समारोह की सबसे बड़ी बात ये है कि राजनीतिक घराने की इस शादी में राजनीतिक पार्टी का कोई नेता आमंत्रित नहीं था। विवाह उडुपी आदमारु मठ के संतो की मौजूदगी में ब्राह्मण परंपराओं का पालन करते हुए सम्पन्न किया हुआ।

निर्मला सीतारमण की बेटी के विवाह से जुड़े महत्त्वपूर्ण तथ्य

कहां हुई निर्मला सीतारमण की बेटी की शादी

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की बेटी परकला वांगमयी 8 जून को अपने बेंगलुरु वाले घर में प्रतीक दोशी के साथ विवाह बंधन में बंध गई। शादी एक पारिवारिक समारोह थी इसलिए इसमें केवल करीबी दोस्त और रिश्तेदार मौजूद थे। रिपोर्ट के अनुसार, शादी के समारोह में किसी राजनीतिक पार्टी के नेता नहीं थे। शादी बेंगलुरु के एक होटल में संपन्न हुई।

किस रीति रिवाज से हुआ निर्मला सीतारमन की बेटी का विवाह

विवाह की प्रक्रिया को ब्राह्मण परंपराओं के अनुसार आयोजित किया गया जिसमे उडुपी आदमारु मठ के संत और उनके साथी जोड़े को आशीर्वाद देने पहुंचे। रिपोर्ट के अनुसार विवाह प्रक्रिया आदमारु मठ के वैदिक नियमों के अनुसार संपन्न की गई।

क्या थी पोशाक

शादी के समारोह के लिए, दुल्हन बनी वांगमयी ने एक शानदार गुलाबी साड़ी का चयन किया, जिसे उन्होंने हरे ब्लाउज के साथ पहना। दूल्हा बने प्रतीक ने पारंपरिक सफेद पंचा और शॉल पहना। दुल्हन की मां, निर्मला सीतारमण ने मोलाकलमूरू साड़ी का चयन किया।

क्या करती है परकला वांगमयी

वांगमयी ने नॉर्थवेस्टर्न मेडिल स्कूल ऑफ जर्नलिज्म से पत्रकारिता में मास्टर्स डिग्री हासिल कर रखी है। वह मिंट लाउंज के फीचर्स विभाग में पुस्तक और संस्कृति सेक्शन में कार्यरत हैं। इससे पहले, वह द हिंदू में फीचर राइटर के रूप में काम करती थी।

कौन है निर्मला सीतारमन के दामाद

बिजनेस टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, प्रतीक दोशी गुजरात से हैं। वह प्रधानमंत्री कार्यालय में OSD के रूप में कार्यरत हैं। जब नरेंद्र मोदी पहली बार प्रधानमंत्री बने तो 2014 में वह प्रधानमंत्री कार्यालय में आए। फिर उनके दूसरे कार्यकाल में अर्थात 2019 में प्रतीक को प्रधानमंत्री कार्यालय के OSD के रूप में नियुक्त किया गया। रिपोर्ट के अनुसार, दोशी प्रधानमंत्री कार्यालय में शोध और रणनीति बनाने पर काम करते हैं। पहले, जब पीएम मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब दोशी गुजरात के मुख्यमंत्री कार्यालय में एक रिसर्च असिस्टेंट थे।

कैसा है निर्मला सीतारमन का उनकी बेटी परकला वांगमयी का रिश्ता

कुछ समय पहले अपनी बेटी के जन्मदिवस पर, मां-बेटी के सम्बंधों की चर्चा करते हुए, सीतारमण ने सितंबर 2019 में अपनी बेटी वांगमयी के साथ एक पुरानी तस्वीर साझा की थी, इस पोस्ट में उन्होंने अपनी बेटी को एक दोस्त, दार्शनिक और मार्गदर्शक कहा। ट्वीट में उन्होंने लिखा, “बेटियों के बारे में इससे भी अधिक बातें कही जा सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular