Sunday, April 14, 2024
HomeNewsदेशभर के सरकारी कर्मचारियों ने दिल्ली में भरी हुंकार, जानिए किस नेता...

देशभर के सरकारी कर्मचारियों ने दिल्ली में भरी हुंकार, जानिए किस नेता ने क्या कहा

Old Pension Scheme: सरकारी कर्मियों द्वारा ओल्ड पेंशन स्कीम की बहाली की मांग के लिए करा जा रहा आंदोलन रविवार के दिन विकराल रुप धारण कर लिया। दिल्ली के पुराने रामलीला मैदान में आंदोलनकारियों की इतनी अधिक भीड़ का अनुमान न तो केंद्र की बीजेपी गवर्नमेंट को था, न ही दिल्ली गवर्नमेंट को।

old pension scheme protest in delhi

रामलीला मैदान में आयोजित इस महारैली में बड़ी तादाद में सेंट्रल और स्टेट गवर्नमेंट के कर्मचारी पहुंचे। जिनके पक्ष में कई राजनीतिक पार्टियों के नेता, किसान नेता सहित कई संगठन के कार्यकर्ता उपस्थित थे। उन सभी का कहना था कि गवर्नमेंट अपनी जिद पर अड़ी रहती है तो इससे भी ज्यादा बड़ा आंदोलन देशभर में किया जाएगा।

ओल्ड पेंशन कर्मचारियों का अधिकार : विजय कुमार बंधु

इस पेंशन शंखनाद महारैली का आयोजन National Movement for Old Pension Scheme (एनएमओपीएस) के बैनर तले करा गया। एनएमओपीएस के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय कुमार बंधु ने इस अवसर पर बोला कि ओल्ड पेंशन कर्मचारियों का अधिकार है, गवर्नमेंट से खैरात नहीं मांग रहे, डिमांड कर रहे है। सरकारी कर्मचारियों, पेंशनरों एवं उनके रिश्तेदारों को मिलाकर वोट की तादाद 10 Crore से ज़्यादा हो जाती है। यह संख्या चुनाव में काफ़ी बड़ा उलटफेर करने के लिए निर्णायक सिद्ध होगी। यदि गवर्नमेंट हमारी बातें नहीं मानती तो शीघ्र ही Vote For OPS मिशन चलाया जाएगा। इस रैली में कई नेताओं ने भी पुरानी पेंशन स्कीम के मामले पर अपने विचार रखे जो इस प्रकार है।

ओल्ड पेंशन स्कीम सरकारी कर्मियों का हक: भूपेंद्र सिंह हुड्डा

इस अवसर पर हरियाणा राज्य के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने बोला कि ओल्ड पेंशन स्कीम कर्मियों का अधिकार है। मांगें बिल्कुल जायज है एवं गवर्नमेंट को इसे जल्द से जल्द लागू करना चाहिए। हम इस प्रोटेस्ट को पूरा समर्थन देते हैं।

इस लड़ाई में किसान कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे: टिकैत

भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष राकेश टिकैत ने बोला कि पुरानी पेंशन योजना को हमारा पूरा समर्थन है। देश का कृषक पेंशन की इस लड़ाई में कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा रहेगा तथा इसे मजबूती से लड़ने का कार्य करेगा।

पूरे देश के सरकारी कर्मचारी मोदी सरकार के खिलाफ: संजय सिंह

आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने बोला कि भारत के कर्मियों ने पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली के लिए मोदी सरकार के विरुद्ध मोर्चा खोल दिया है। 40 दिन एमएलए या एमपी रहने वाले को पूरी जिन्दगी पेंशन, तो 40 वर्ष तक काम करने वाले कर्मचारी को पेंशन क्यों नहीं दी जाती। उन्होंने आगे बोला कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का नारा है ‘जहां आप का शासन वहाँ पुरानी पेंशन’।

कांग्रेस ने सदैव कर्मियों के हितों को सर्वोपरि रखा है: लवली

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली ने बोला कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने सदैव कर्मियों के हितों को सबसे ऊपर रखा है। उन्होंने कहा कांग्रेस पार्टी की जिन प्रदेशों में सरकारें है, वहाँ कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे एवं राहुल गांधी के आदेश के अनुसार पुरानी पेंशन योजना को लागू करा जा रहा है। दिल्ली में कांग्रेस गवर्नमेंट के आने पर सर्वप्रथम सरकारी कर्मियों के लिए ओल्ड पेन्शन स्कीम को लागू कर दिया जाएगा। इसके साथ ही गेस्ट टीचर्स और अन्य विभागों के कर्मियों को भी शीघ्र ही नियमित कर दिया जाएगा।

केंद्र में कांग्रेस सरकार आई तो पहले दिन ही पुरानी पेंशन योजना लागू करेंगे: डॉ॰ उदित राज

देश एवं दिल्ली में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस कर्मियों के साथ खड़ी हैं। इस अवसर पर पूर्व एमपी डा॰ उदित राज ने बोला कि देश की गवर्नमेंट यानी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस यदि केंद्र में आई तो फर्स्ट डे ही ओल्ड पेंशन स्कीम को बहाल किया जाएगा। मैं नई पेंशन योजना का पूर्णत: विरोध करता हूँ। इस मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी भारत के सभी कर्मचारियों के साथ खड़ी है।

पूर्व एमपी संदीप दीक्षित समेत कई पॉलिटिशियन ओल्ड पेंशन स्कीम के पक्ष में रामलीला मैदान में पहुंचे थे। उनका कहना था कि सरकारी कर्मियों की रैली से मोदी सरकार के विरुद्ध बिगुल बज चुका है, 2024 में बीजेपी का ख़ात्मा फिक्स है क्योंकि देश भर के सरकारी कर्मचारी व उनके परिजन मोदी सरकार के विरुद्ध मतदान करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular