Sunday, April 14, 2024
HomeTechnologyक्या आप भी करते है Incognito Mode में ब्राउज़िंग, जानिए कितना सेफ...

क्या आप भी करते है Incognito Mode में ब्राउज़िंग, जानिए कितना सेफ है इनकॉग्निटो मोड

अगर आप भी अक्सर Incognito Mode में ब्राउज़िंग करते होंगे तो आपके मन मे ये प्रश्न जरूर आते होंगे कि क्या Incognito Mode को हैक किया जा सकता है या फिर क्या Incognito Mode में आपकी ब्राउजिंग हिस्ट्री पता की जा सकती है? अगर आपको भी इन प्रश्नों के जबाव चाहिए तो ये आर्टिकल पूरा पढिए।

How Much Incognito Mode Is safe
incognito mode कितना सेफ है।

क्या आप भी इनकॉग्निटो मोड को सुरक्षित समझते हैं? अक्सर लोग कुछ अलग या गलत चीजों को ढ़ूंढ़ने के लिए इस मोड का उपयोग करते हैं, लेकिन अगर कोई आपके इंकॉग्निटो मोड मे ब्राउज़ की गई चीजों की हिस्ट्री निकाल दे तो आपको कैसा लगेगा। शायद आप नहीं जानते कि कुछ लोग इस काम को बड़ी आसानी से कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इनकॉग्निटो मोड और इससे जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में।

क्यों प्रयोग करते है लोग Incognito Mode

आजकल, प्राइवेसी और सुरक्षा के बारे में चिंता सबको बनी रहती है। इसलिए बहुत सारे लोग इंटरनेट उपयोग करते समय ब्राउज़र में Incognito Mode का उपयोग करते हैं। लोगों ऐसा समझते है कि इससे उनकी ब्राउज़िंग हिस्ट्री पूरी तरह छिपी रहती है। परंतु क्या यह सच है? नहीं ऐसा नहीं है सच यह है कि, यदि किसी ने आपके डिवाइस में सेंधमारी की है, तो उन्हें आपकी ब्राउज़िंग हिस्ट्री आसानी से पता चल जाएगी।

कुछ लोग बहुत आसानी से पता कर सकते हैं कि आपने Incognito Mode में क्या खोजा है। लेकिन ऐसा कैसे हो सकता है? इसके लिए हमें कुछ चीजों को समझना होगा।

Incognito Mode कैसे कार्य करता है?

जब हम ब्राउज़र में इनकॉग्निटो मोड रन करते हैं, तो यह हमारी ब्राउजिंग एक्टिविटी को अलग टैब में शुरू करके एक अलग ब्राउजिंग सेशन को शुरू कर देता है। आपकी जानकारी के लिए बताया दें कि इनकॉग्निटो मोड में इंटरनेट को उपयोग करते समय हमारी ब्राउज़िंग हिस्ट्री, कुकीज़, फॉर्म डेटा, पासवर्ड और हमारा टेम्परेरी डेटा लोकल डिवाइस में स्टोर नहीं होता है।

इसे प्रयोग करने के कई फायदे हैं, जैसे कि कुकीज़ को संग्रहित न कर पाने की वजह से वेबसाइट्स उपयोगकर्ताओं के व्यवहार और पसंद को ट्रैक नहीं कर सकती हैं। कुछ ब्राउज़र्स में Incognito Mode में डाउनलोड की गई फ़ाइलें भी गुप्त रूप से अलग रख ली जाती हैं।

Incognito Mode मतलब अधिक गोपनीयता?

इनकॉग्निटो मोड की सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह आपकी ब्राउज़िंग हिस्ट्री और कुकीज़ को लोकल डिवाइस में स्टोर नहीं करता है। इसका मतलब यह है कि कोई भी आपकी ब्राउज़िंग एक्टिविटी को नहीं देख सकता है। यह सुविधा तब काम आती है। जब एक ही डिवाइस का उपयोग कई उपयोगकर्ताओं द्वारा किया जाता है, जैसे कि साइबर कैफे या कार्यालय का कंप्यूटर आदि।

क्या Incognito Mode हैक हो सकता है?

Incognito Mode हमारी वेब-सर्फिंग को सुरक्षित रखता है, परन्तु इसका मतलब यह नहीं है कि यह हैकिंग से मुक्त है। वास्तव में, इनकॉग्निटो मोड को हैकिंग या मैलवेयर से बचाने के लिए डिज़ाइन नहीं किया गया है। अगर आपकी डिवाइस किसी हैकर के हाथ लग जाती है, तो आपकी ब्राउज़िंग का सम्पूर्ण डेटा सामने आ सकता है। इसे कई तरह से हैक किया जा सकता है जैसे स्क्रीनशॉट के माध्यम से, की-स्ट्रोक लॉगर या मालिशियस सॉफ्टवेयर के जरिए आदि। इसके अलावा, आपकी डिवाइस का DNS कैश देखकर भी आपकी ब्राउज़िंग हिस्ट्री को देखा जा सकता है।

ध्यान दें कि इनकॉग्निटो मोड एक यूजर की पर्सनल गोपनीयता को बचाने का एक उपाय हो सकता है, लेकिन यह पूरी तरह से सुरक्षित नहीं है। सबसे महत्वपूर्ण है कि आप विश्वसनीय और सुरक्षित वेबसाइटों पर ही विश्वास करें और आपकी डिवाइस की सुरक्षा के लिए अन्य उचित कदम भी उठाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular