Sunday, May 26, 2024
HomeTechnologyTechnical Knowledgeऐसे करें असली एप्पल डिवाइस की पहचान | iPhone Check real or...

ऐसे करें असली एप्पल डिवाइस की पहचान | iPhone Check real or fake in Hindi

Apple के उत्पाद काफी महंगे होते हैं। चाहे आईफोन हो अथवा मैकबुक अथवा एयरपॉड्स कोई भी उत्पाद लेंगे तो आप लोगों को अच्छा खासा रुपया देना होगा। मगर क्या होगा यदि आप मोटा रुपया दे कर एप्पल का डुप्लीकेट सामान घर ले आएं? तो ऐसा न हो इसलिए जान लीजिए कैसे करते है Apple Device / iPhone Check real or fake. कैसे करते है एप्पल सीरियल नंबर चेक ?

iPhone Check Real or Fake

शायद आपको नहीं पता होगा कि आईफोन से लेकर एयरपॉड्स तक एप्पल के बहुत से प्रोडक्ट्स बाजार में डुप्लीकेट भी बहुत मिलते है। अत: आवश्यक है कि आप इसकी जांच कर लें। नकली या असली में पहचान आप उस उत्पाद को केवल हाथ में लेकर नहीं बता सकेंगे। क्योंकि वो देखने में एकदम एप्पल प्रोडक्टस जैसे ही लगते हैं। अनेक बार प्रयोग करने में भी आप लोगों को कोई फर्क अनुभूत नहीं होगा। अत: हम आप लोगों को वह तरीका बताते हैं जिससे आप ये आसानी से जांच लेंगे कि iPhone is real or fake. ये इस वजह से भी बताना आवश्यक है क्योंकि अनेक बार व्यक्ति सेकंड हैंड एप्पल प्रोडक्ट खरीदते हैं। जो अक्सर नक़ली होते है। अत: एप्पल के किसी भी उत्पाद को खरीदने से पूर्व ये अवश्य जांच लें कि सामान नकली है या असली। तो इस आर्टिकल में, मैं आप लोगों को दो बहुत ही सरल तरीके बताऊंगा जिससे आप बहुत हद तक ये मालूम कर सकते है कि आपने जो एप्पल प्रोडक्ट पर्चेस किया है वो नकली या असली। 

Apple Devices / iPhone check real or fake

आज हम लोग जो तरीक़े बताएंगे उनसे आप ये तो जान ही सकेंगे कि एप्पल का प्रोड्क्ट नकली है या असली, साथ में ये भी जान सकेंगे कि इसकी Warrenty कितनी है। एप्पल के इस टूल से आप मुख्यतया तीन चीजें जान सकेंगे। पहला ये एप्पल प्रोडक्ट की खरीद वैध है अथवा नहीं, दूसरा टेलीफोन अथवा Technical Assistance कब तक वैध है एवं तीसरा रिपेयर एवं सर्विस कवर अर्थात Warrenty चल रही है अथवा Expire हो गई है। 

iPhone नकली है अथवा असली ( iphone check original or fake )

Apple iPhone वर्ल्ड का सबसे पॉपुलर और सबसे बेस्ट स्मार्टफोन ​है हर व्यक्ति इस फ़ोन को प्रयोग करना चाहता है अत: iphone की प्राइस आम स्मार्टफोन से कहीं अधिक होती है इस स्थिति में यदि आजकल बाजारों में आप लोगों को बहुत ही सस्ते दामो में iphone मिल रहा है तो उससे आप लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है iphone की कीमत ज्यादा होने की वजह से व्यक्ति बाजारों से Second Hand फ़ोन खरीदते है तो इस स्थिति में विक्रेता बहुत से लोगों को नकली आईफोन दे देते है जो कि बिल्कुल वास्तविक आईफ़ोन (Real iphone) की तरह दिखता है तो इस स्थिति में कही आप मूर्ख न बन जाए, अत: चेक करने के इस तरीक़े को जान लें।

प्रथम तरीका : iPhone official check 

1). यदि आप जानना चाहते है कि आपने जो iPhone लिया है वो नकली है अथवा असली तो उसके लिए सर्वप्रथम आप को गूगल में जाना है एवं सर्च करना है “apple checker” फिर आप लोगों को इस लिंक https://checkcoverage.apple.com/ पर जाना है। ये एप्पल की आधिकारिक वेबसाइट का लिंक है। या फिर आप यहां पर क्लिक कर के भी सीधे एप्पल की इस इंटरनेट साइट पर जा सकते है

2). जैसे ही आप Apple की ऑफिसियल साइट पर जाते है तो यहां आप को एक Option दिखाई देता है जिस पर लिखा होता है Enter your hardware serial number, मतलब यहाँ आप लोगों को आपकी Apple Device का Serial Number एंटर करना होता है जैसे हमने ऊपर अपनी मैकबुक का सीरियल नम्बर डाला हुआ है उसके बाद जो code दिखाई दे रहा है, उसे हमने नीचे दिखाई दे रहे बॉक्स में डाला हुआ है एवं अब continue पर क्लिक करना है इसके पश्चात आप लोगों को निम्न इमेज की भांति Apple Device Detail Check हो जाएगी। यहाँ आप एप्पल सीरियल नंबर चेक कर सकते है। इसके पश्चात आप स्वयं डिसीजन लेने की सिचुएशन में होंगे। 

( Note- how To find iphone serial number – यदि आप लोगों को अपने फोन का सीरियल नंबर नहीं पता हो तो आप स्वयं के फ़ोन का सीरियल नम्बर पता करने के लिए फ़ोन के setting > General >About > Serial Number सेक्शन में जा सकते है यहां आप को आपके आईफ़ोन का सीरियल नम्बर मिल जायेगा। एप्पल डिवाइस अथवा किसी भी और डिवाइस का सीरियल नंबर भी उस डिवाइस के अबाउट सेक्शन में ही होता है )

3). आपको बता दें, जैसे ही आप continue पर क्लिक करते है तो ये आपको अपने आईफ़ोन का अथवा आपकी और बची एप्पल डिवाइस का Correct Model दिखा देगा यदि ये आपकी Apple Devices अथवा आपके iPhone का Correct Model दिखा देता है तो इसका आशय है आपका iPhone अथवा आपकी डिवाइस वास्तविक है और अगर ये continue पर क्लिक करने के उपरांत आपका serial number invalid बताता है तो आपका आईफोन डुप्लिकेट हो सकता है अथवा आपका सीरियल नंबर ग़लत हो सकता है तो गौर करके सही सीरियल नम्बर डाले। 

दूसरा तरीका : iPhone IMEI real fake method

नीचे हमने iPhone fake है अथवा real किस प्रकार से पता करे इसका दूसरा तरीका बताया है इस तरीके की सहायता से आप ये भी मालूम कर सकते है कि आपका आईफ़ोन कितना ओल्ड है इसके साथ ही iPhone से संबंधित निम्नलिखित सूचना को भी आप इस तरीक़े की सहायता से मालूम कर सकते है

iPhone details check

प्रोडक्ट के संबंध में (Product description), आईफ़ोन की वारंटी (Apple phone warranty & Activation info), आपका फ़ोन लॉक है अथवा नहीं (Phone Is locked To the carrier, चेक एक्टिवेशन लॉक स्टेटस (Check Activation lock status)

1). सर्वप्रथम आप को iphoneox की इंटरनेट साइट पर जाना है आप यहां पर क्लिक कर के आप सिम्पली आईफ़ोन ओक्स की इंटरनेट साइट पर जा सकते है इसके पश्चात आप लोगों को एक enter IMEI here का ऑप्शन मिलेगा। इसके अंदर आपको आपके फ़ोन का IMEI नम्बर डालना है फिर । am not a robot ऑप्शन को टिक करके फिर Check बटन पर क्लिक करना है।

IMEI real fake

(नोट: यदि आपको अपने फोन का IMEI नंबर नहीं पता हो तो स्वयं के फ़ोन का IMEI Number पता करने के लिए आपके फोन से *#06# डायल करें, इससे आपको अपने फ़ोन का IMEI Number मिल जायेगा।)

2). जैसे ही आप चेक बटन पर क्लिक करते है तो ये आपको आपके फोन की सभी डिटेल शो कर देगा जैसे आपके आईफ़ोन का सीरियल नम्बर ,एक्टिवेशन स्टेटस, वारंटी, मेन्यूफेक्चर डेट, आदि।

यदि आप लोगों को इस डेटाबेस में उत्पाद का सीरियल नम्बर (iPhone के केस में IMEI) डालने पर कोई जानकारी नहीं प्राप्त होती है तो संभव है वो उत्पाद असली नहीं है। अथवा उसकी खरीदफरोख्त सही तरह से नहीं करी गई है। 

आपने देखा कि आप इस प्रकार से स्वयं के एप्पल प्रोडक्ट्स की Warranty भी Check कर सकते हैं। यदि आप भुला चुके हैं कि आपने ये कब लिया था एवं एप्पल केयर की कवरेज कितनी शेष है तो इस स्थिति में आप ऊपर दिए लिंक को प्रयोग कर सकते हैं। 

प्रोडक्ट के बॉक्स या उसकी पैकिंग द्वारा पहचान

किसी भी उत्पाद के रियल और फेक होने का अंतर उसकी पैकेजिंग से ही स्टार्ट हो जाता है। इस स्थिति में आप देखेंगे एप्पल वॉच के बॉक्स एवं पैकिंग में भी बहुत अन्तर होता है। असल में, बाजार में जो फेक एप्पल स्मार्टवॉच मिल रही होती हैं, वो चाइनीज होती हैं। इस स्थिति में यदि बॉक्स पर चाइनीज़ भाषा में कुछ लिखा हुआ है, तो यहां पर ही अन्तर स्पष्ट हो जाता है। वैसे, बॉक्स पर Apple का Logo अवश्य देखें। इसके साथ ही, कम्पनी के ओरिजिनल बॉक्स उत्पाद के संबंध में अत्यधिक जानकारी नहीं लिखी होती, मगर फेक एप्पलवॉच के बॉक्स पर चारों ओर आप लोगों को कुछ न कुछ लिखा हुआ नज़र आएगा।

इसलिए एप्पल प्रोडक्ट / आईफोन चाहे आप ऑन-लाइन या ऑफलाइन जैसे भी खरीदे कुछ चीज़ों को अवश्य चेक कर लें जैसे कि डिवाइस की मोटाई, वजन, स्क्रीन साइज, Welcome Screen, Button Location, Operating System, एप्पल का लोगो, वारंटी, Inbuilt Apps, सीरियल नम्बर और मेमोरी कैपेसिटी आदि। निम्न चीज़ों से आप सरलता से असली-नकली की जांच कर सकते हैं।

1). iPhone के Box पर देखे अगर उस पर आईफोन काले रंग से लिखा है तो वास्तविक लेकिन यदि गोल्ड/ऑरेंज रंग से iPhone Text लिखा है तो नकली। ओरिजिनल आईफोन का बॉक्स कॉम्पैक्ट होता है जबकि डुप्लिकेट का साइज बड़ा होता है। रियल में बॉक्‍स पर Bar Code होता है और बॉक्‍स के बैक पर भी मोबाइल फोन के संबंध में कुछ लिखा होता है।

2). गौर से देखे तो रियल आईफोन डुप्लिकेट से थोड़ा पतला होता है। नकली के साइड बटन प्रयोग करने में असली के साइड के बटनों से थोड़े हार्ड होते हैं जिन्हें दबाने में ज्यादा पॉवर का प्रयोग करना पड़ता है। रियल की Volume Key ज्यादा फ्री व दबाने पर आवाज़ करती हैं, पर डुप्लिकेट में नहीं करती है। रियल का Vibration Button भी आसानी से मूव हो जाता है परंतु नकली का नहीं।

3). रियल आईफोन के पेपर्स के नीचे एक्सेसरीज-इयरफोन, डाटा केबल और चार्जर होता है। दोनों Earphone समान होते हैं गुणवत्ता की जाँच सुनकर की जा सकती है। डुप्लिकेट में Data Cable Earphone के नीचे की ओर होती है। रियल आईफोन के बॉक्स की ट्रे में चार्जर और डाटा केबल रखने की जगह होती है। नकली में सिर्फ चार्जर रखने की जगह बनी होती है।

4). मोबाइल फोन को ऑन करने पर स्क्रीन की शार्पनेस, Battery Percentage Icon का कलर, Camera Icon, Slight To Unlock Option, नोटिफिकेशन इत्यादि में अन्तर स्पष्ट दिखाई पड़ता है। रियल की स्क्रीन ब्लैक होती है, जबकि डुप्लिकेट की डिस्प्ले कलरफुल।

5). रियल एप्पल डिवाइस के बॉक्स के अंदर के कागजों की गुणवत्ता अच्छी रहती है। रियल बॉक्स में पेपरों में Safety Clip लगी होती है।

6). रियल आईफोन के बैक कवर पर आईफोन के नीचे की तरफ लिखें टेक्स्ट बॉटम की साइड ज्यादा होते हैं। नकली मोबाइल फोन में ये कुछ ऊपर की तरफ़ लिखा होता हैं। फेक आईफोन का Logo मिरर की भांति शेडो रिफलेक्ट करता है। वास्तविक में साइनिंग तो होती है परंतु रिफलेक्शन नहीं।आईफोन चाहे आप ऑन-लाइन या ऑफलाइन जैसे भी खरीदे कुछ चीज़ों को अवश्य चेक कर लें जैसे कि डिवाइस की मोटाई, वजन, स्क्रीन साइज, Welcome Screen, Button Location, Operating System, एप्पल का लोगो, वारंटी, Inbuilt Apps, सीरियल नम्बर और मेमोरी कैपेसिटी आदि। इन चीज़ों से आप सरलता से असली-नकली की जांच कर सकते हैं।

सारांश : यदि आप कभी भी iPhone Buy करते है तो चाहे वो न्यू हो अथवा सेकंड हैण्ड तो एक दफा आप ये तरीके अवश्य अपनाये। जिससे आपको पता लग जाएगा कि जो Phone आपने Buy किया है वो रियल है या फेक, तो ये कुछ टिप्स थे जो आप Follow कर सकते है तो दोस्तों आप लोगों को ये Post कैसा लगा, हमें कॉमेंट कर के अवश्य बताये और अगर आप लोगों को कुछ भी पूछना है तो नीचे कॉमेंट कर के पूछ सकते है।

इस तरीके से इन iPhones को भी चेक कर सकते है।

iPhone 4s असली है या नकली किस प्रकार से पता करें

iPhone 5 असली है या नकली किस प्रकार से पता करें

iPhone 5s असली है या नकली किस प्रकार से पता करें

iPhone 6 असली है या नकली किस प्रकार से पता करें

iPhone 6s असली है या नकली किस प्रकार से पता करें

iPhone 6 असली है या नकली किस प्रकार से पता करें

iPhone 7 असली है या नकली किस प्रकार से पता करें

iPhone 7 Plus असली है या नकली किस प्रकार से पता करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular