Thursday, May 23, 2024
HomeTechnology5G सेवा की सच्चाई - बहुत सुन लिए 5G के फायदे, अब...

5G सेवा की सच्चाई – बहुत सुन लिए 5G के फायदे, अब जान लीजिए 5G के नुकसान

5G के नुकसान के बारे में शायद आपको किसी ने नहीं बताया होगा जबकि 1 अक्टूबर से इंडिया में 5G सर्विस की फॉर्मल स्टार्टिंग (औपचारिक शुरुआत) हो चुकी है। Airtel ने भारत के 8 नगरों में 5जी इंटरनेट सर्विस की स्टार्टिंग की है। इसके अतिरिक्त रिलायंस जियो ने भी चार नगरों में स्वयं के 5G नेटवर्क की टेस्टिंग करना शुरू की है। अभी तक हम सभी लोगों को 5G सेवा के केवल फायदों के संबंध में बताया गया है। मगर जिस चीज़ के लाभ होते हैं, उसके बहुत से Disadvantage भी बहुत होते हैं। इसलिए हम आज आप को 5G के नुकसान के संबंध में बता रहे हैं। इन नुकसानों को जानना आपको बहुत आवश्यक है।

5G के नुकसान - disadvantages of 5G

5G के नुकसान – 5G Service Disadvantages

5G तकनीक, एक ऐसी तकनीक है जिसमें आपको बहुत तेज़ स्पीड का इंटरनेट देखने को मिलेगा परंतु इस तेज स्पीड के इंटरनेट के कारण आपके फ़ोन को बहुत सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। साथ ही नेटवर्क कंपनियों को बहुत सारे लॉस को झेलना पड़ेगा। 5G सेवा के इन सभी नुक़सानों को हमने अपनी इस पोस्ट में लिखा है जो आप नीचे पढ़ सकते हैं 

कनेक्टिविटी में बाधा – Connectivity Problems Due To Short Range

जानकारों के मुताबिक 5G कनेक्टिविटी की रेंज अधिक दूरी की नहीं होती है। 5G फ्रीक्वेंसी की वेव्स सिर्फ थोड़ी डिस्टेंस ही ट्रेवल करने में समर्थ होती हैं। तथ्य यह है की 5जी फ्रीक्वेंसी पेड़ों, टावरों, दीवारों एवं इमारतों जैसे अवरोधों से अवरूद्ध हो सकती हैं। इससे बचने का एक मात्र तरीका 5G टावरों की तादाद को बढ़ाना है, जिससे यह समस्या हल हो सकती है। यद्यपि इस समाधान पर बहुत अधिक व्यय होगा।

रोल आउट पर बिग इन्वेस्टमेंट जरूरी – Big Investment Needed

5G इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट या अभी मौजूद सेलुलर इंफ्रास्ट्रक्चर अपग्रेड करने में बहुत अधिक लागत आती है। हाई स्पीड कनेक्टिविटी के लिए महत्वपूर्ण उपकरणों के रख-रखाव पर होने वाले खर्च के बाद यह धनराशि और भी ज्यादा बढ़ जाती है। इसलिए यह पॉसिबिलिटी है कि बढ़े हुए इस व्यय को कम्पनियां ग्राहकों से वसूल करेंगी। यद्यपि 5जी कम्पनियां एक-दूसरे के साथ टाई-अप करके एवं एक दूसरे के 5G टॉवरों का प्रयोग करके स्वयं की लागत को घटा सकती हैं। 

ग्रामीण क्षेत्रों में पहुँच की समस्या – Reach in Rural Area

जैसा कि हम लोग बता चुके हैं कि 5G इंटरनेट की वेवलेंथ बहुत कम होती है, इस स्थिति में नगरों में घनी आबादी की वजह से एक 5G टावर से काफ़ी आबादी को कवर किया जा सकता है। परंतु ग्रामीण क्षेत्रों में स्थिति ठीक इसके विपरीत होती है। गांवों में पूरे गांव की आबादी को कवर करने के लिए अधिक टॉवर लगाना कम्पनियों के लिए सरल नहीं होगा। इस स्थिति में गांवों में बहुत कम आबादी को ही इस 5G सेवा का फायदा मिलेगा। 

5G सेवा से घटेगी बैटरी लाइफ – Effect On Battery Life

5जी स्पीड की वजह से मोबाइल फोन के अधिकतर पार्ट्स कार्य करेंगे, जिसके चलते मोबाइल फोन में Battery की खपत भी पूर्व के मुकाबले अधिक होगी। इस स्थिति में इसका डायरेक्ट इफेक्ट मोबाइल की Battery Life पर पड़ेगा एवं बैटरी लाइफ पहले से कम हो जाएगी। 

अपलोड स्पीड; डाउनलोड स्पीड से होगी बहुत कम – Lesser Upload Speed

5जी में Download Speed बहुत ज़्यादा होती है। वहीं दूसरी ओर अपलोड स्पीड बहुत कम होती है। जहाँ एक तरफ Download Speed 1.9Gbps ​​तक मिल सकती है, वहीं दूसरी ओर Upload Speed मुश्किल से ही कभी 100Mbps से ज्यादा हो सके। 

तो दोस्तों उपरोक्त आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको पता लग गया होगा कि 5G के फायदे और नुकसान क्या है? क्या आपको पता लगा कि 5G का भविष्य क्या है? क्या इन सभी समस्याओं का हल निकाला जा सकता है? यदि आपके दिमाग़ में भी इन समस्याओं का कोई हल चल रहा हूँ तो हमें नीचे कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर बताए या इस आर्टिकल को अपनी जीनियस फ्रेंड्स के साथ शेयर करके उनसे इन समस्याओं के समाधान के बारे में बात करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular